Love Story in Hindi for Girlfriend | इमोशनल स्टोरी इन हिंदी | बेवफा Part 1

गर्लफ्रेंड, सभी लड़को को अपना जीबन में एक सपना होता हे ‘Love Story in Hindi for Girlfriend’ की मेरे Life में अगर एक अच्छा Girlfriend मिल जाये तो मेरा जीबन ख़ुशी से भर जायेगा और मुझे इस जीबन में और कुछ नहीं चाहिए।

Love Story in Hindi for Girlfriend

सभी लड़को की इच्छा होता हे की मेरा एक गर्लफ्रेंड हो और उसके साथ घूमने जाये, एक साथ रेस्ट्रोरेंट में खाना खाये, उसके साथ आपने जीबन का सुख दुःख की बाते करे उसे बह हर खुसी दे जो बह चाहता हे।

और उसे अपना जीबन साथी बनाके पूरा जीबन उसके साथ बिताये। ये सभी सपने लड़का और लड़की दोनों ही देखता हे। लेकिन किया सबकी सपना पूरा होता हे?

नहीं होता हे यार। सब इतना खुसनसीब नहीं होता जिसे बह आपने प्यार मिल जाये। ‘Love Story in Hindi for Girlfriend’ इस कहानी में भी रनजीत के साथ कुछ ऐसी ही हुआ हे?

लेकिन किया हुआ था रनजीत के साथ ‘Love Story in Hindi for Girlfriend‘ इसकी पूरा कहानी जानने केलिए चलिए हम आगे पड़ते हे।

Incomplete Love Story in Hindi | अधूरे प्यार की कहानी

Love Story in Hindi for Girlfriend | इमोशनल स्टोरी इन हिंदी | बेवफा Part 1
Love Story in Hindi for Girlfriend

ये कहानी पंजाब की लुधियाना शहर की 2015 की हे। रनजीत की पढ़ाई ख़तम होने की 1 साल बाद बह पहेली बार एक कल सेंटर की नकरी केलिए लुधियाना में रनजीत के घर से 50 किलोमीटर की दुरी पे इंटरव्यू देने आये थे।

रनजीत इंटरव्यू केलिए बाहार इंतजार कर रहा था तभी उसकी नजर मेन गेट की तरफ गया उसने देखा की कजरारे नयने बाली एक बहुत सुन्दर सा लड़की हाथो में एक फाइल लेकर इंटरव्यू ऑफिस की तरफ आ रही थी।

बह लड़की रनजीत की बगल वाली सीट पर आकर बैठ गया इंटरव्यू देने केलिए। इंटरव्यू होने में बस और आधा घंटा बचा था। बह लड़की इतना सुन्दर और इतना गोरा था की रनजीत की नजर उसकी चहरे से हट नहीं रहा था।

तभी बह लड़की ने कहा किया बात हे? रनजीत ने हिच खींचते हुआ कहा, किया नहीं नहीं कोई बात नहीं जी। रनजीत को love is the first sight पेहेले नजर में प्यार हो गया था।

रनजीत बात करने की बहुत कोसिस कर रहा था लेकिन उसे डर लग रहा था। बह लड़की आपने बुक खोलकर पड़ रहा था। लेकिन रनजीत बार बार उसे ही घूरे जा रहा था।

बह लड़की को तो महसूस हो रहा था की बह लड़का उसे घूरे जा रहा नहे लेकिन बहा इंटरव्यू ऑफिस की सामने हे इसलिए बह चुप रहा।

आधा घंटा ख़तम होने की बाद पेहेले रनजीत का इंटरव्यू हुआ उसके 5 candidate के बाद ही बह लड़की का इंटरव्यू हुआ लेकिन इतना देर तक रनजीत उस लड़की के लिए कॉल सेंटर की बाहार इंतजार कर रहा था।

1 घंटा बाद जब बह लड़की इंटरव्यू देकर कॉल सेंटर की बाहार आया तब देखा बह लड़का गेट के बाहार खड़ा हे। रनजीत बह लड़को देखते ही तुरंत उसके पास आया और कहा नमस्ते जी।

में रनजीत लुधियाना से हु, आपकी इंटरव्यू केसा रहा? आपको बता दू की रनजीत भी बहुत ही Handsome और सुन्दर था।

बह लड़की ने कहा मुझे क्यों बता रहा हो और मेरी इंटरव्यू को लेकर आप क्यों परेशान हो? रनजीत ने कहा ऐसा ही पूछ लिया जी। आपका नाम प्रियांका हे ना?

मेरा नाम आपको कैसे पाता चला? बह इंटरव्यू में आपको इसी नाम से पुकारा था और में तो बही था इसलिए सुनलिया था।

लड़की ने ऊंची अबाज में कहा तुमसे मतलब आपने काम से मतलब रखो। ये कहकर चला गया और जाते जाते रनजीत का उदासी चेहरा देखकर मन ही मन में हसने लगा।

कुछदेर बाद रनजीत भी आपने घर लोट आया। घर में आते ही रनजीत ने आपना लैपटॉप खोला और Social Media में प्रियांका को ढूढ़ने लगा लेकिन नहीं मिला।

रनजीत ने सोचा की आज की जमाने की लड़की Social Media में कोई ना तो कोई प्रोफ़ाइल होना चाहिए था लेकिन अजीब बात हे सारे Social Media Platform में उसका कोई भी आता पता नहीं।

Love Story in Hindi for Girlfriend | इमोशनल स्टोरी इन हिंदी | बेवफा Part 1
Love Story in Hindi for Girlfriend

बह कॉल सेंटर में रनजीत सिलेक्शन नहीं हो पाया और उसके कुछ दिन बाद रनजीत को एक मल्टी नेशनल कंपनी में जेनेरल मैनेजर की नकरी मिल गया था।

और बह कंपनी रनजीत की घर से 25 किलोमीटर दूर पे ही हे। दो महीना बाद रनजीत एकदिन अपने गाड़ी से ऑफिस जा रहा था तब देखा की एक लड़की अपना स्कूटी लेकर रस्ते में खड़ा हे।

पास जाते ही रनजीत ने जो देखा बह अपना खुद की आँखो पर ही बिस्वास नहीं कर पा रहा था। क्यूंकि जिस लड़की को दो महीना से ढूंढ रहा था बह उसके सामने स्कूटी लेकर रस्ते में खड़ा थी।

रनजीत ने बह लड़की के पास जाकर अपने गाड़ी रोक दिया और निचे उतर कर कहा हेलो प्रियांका मुझे याद हे? प्रियांका ने कहा तुम यहाँ भी पहुंच गए?

रनजीत ने कहा सामने ही मेरा ऑफिस हे जहा में जॉब करता हु। और में दूर से देखा की एक लड़की स्कूटी लेकर बिच रस्ते में खड़ा इसलिए में उसका मदत करने यहाँ आया तो देखा की तुम हो।

मुझे पता नहीं था की बह तुम हो। प्रियांका ने कहा क्यों पेहेले पता होता तो मेरी मदत केलिए नहीं आता? रनजीत चुप हो गया। प्रियांका ने कहा अब नाटक मत करो और मेरी मदत करो।

देखो मेरा स्कूटी स्टार्ट नहीं हो रहा हे। रनजीत ने स्कूटी में कुछ किया और उसके बाद स्कूटी स्टार्ट हो गया। प्रियांका थोड़ा खुश हुआ और कहा Thanks .

रनजीत ने कहा सिर्फ Thanks? प्रियांका ने कहा और किया expect करते हो? रनजीत ने कहा कुछ नहीं जी चलता हु। प्रियांका ने कहा कॉल सेंटर छोड़के ऑफिस समझ नहीं?

रनजीत ने कहा, कॉल सेंटर में सिलेक्शन नहीं हो पाया और कुछ दिन बाद ही मुझे ये नकरी मिल गया था। और तुम्हारी कल सेंटर की नकरी का किया हुआ?

प्रियांका ने कहा हाँ में सिलेक्शन हो गया और जॉइन कर लिया और में भी ऑफिस ही जा रहा था और रास्ते में मेरा स्कूटी ख़राब हो गया।

रनजीत ने उसे नकरी के लिए बधाई दिया और कहा मेरा साथ एक कप कॉफी पिने चलेंगे? प्रियांका थोड़ा सोचा और कहा हाँ ठीक हे।

बह दोनों पास की एक कॉफी हाउस में जाकर दो कॉफी का ऑर्डर किया। रनजीत बहुत ही खुश था क्यूंकि बह आजतक जिसका तलाश कर रहा था बह उसकी सामने बैठा था।

रनजीत बहुत ही नरवास था। लेकिन दोनों उस 15 मिनिट का मुलाकात में बहुत सारे बाते हुआ और आखिर में रनजीत ने फ़ोन नंबर माँगा।

प्रियांका ने हस्ते हुए फ़ोन नंबर दे दिया। और दोनों अपने अपने ऑफिस चला गया। रनजीत उस इतना खुश था की पूछो मत। बह मन ही मन में सोचा की सईद बह भी मुझे पसंन्द करता हे?

उसके बाद दोनों की लगभग रोज एक ना एक बार फ़ोन में बात होता ही था। 6 महीना बीत गया बह दोनों बहुत ही अच्छा दोस्त बन गया था।

अब बह दोनों Sunday के दिन जब छुट्टी मिलता हे तब बिच बिच में बाहार घूमने केलिए जाता था। बह दोनों खुश थे, आपने जॉब को लेकर और अपने भबिष्य को लेकर बहुत ही सीरियस थे।

Love Story in Hindi for Girlfriend | इमोशनल स्टोरी इन हिंदी | बेवफा Part 1
Love Story in Hindi for Girlfriend

बह दोनों का एक अलग अलग सपना था की बह आपने लाइफ में बहुत ही आगे बढ़ेंगे और खूब सारे पैसे कमाएंगे। धीरे धीरे बह दोनों और भी करीब आने लगे।

इतना करीब की उन दोनों का घरो में अनजाना होने लगा और दोनों की घर बालो को भी इतराज ने था क्यंकि घर बालो को पता था बह दोनों एक अच्छे दोस्त हे।

बह दोनों की मुलाकात की 1 साल हो चूका था। दोनों ही दोनों की बारे में बहुत अच्छे तरह से जानते थे क्यूंकि 1 सालो में बह एक दूसरे से कोई भी बात नहीं छुपाये था।

प्रियांका एक बहुत ही सीधा साधा लड़की था उसे दुनिया से कोई मतलब नहीं था। बह एक बहुत ही अच्छी लड़की था और रनजीत भी बहुत ही अच्छा लड़का था। उसे किसी किसम का बुरा आदत नहीं था।

इसलिए प्रियांका भी उसे बहुत पसंद करता था। 2017 Valentine Day का एक दिन पहले यानि February 13 तारीख को रनजीत ने प्रियांका को फ़ोन किया और कहा कल सुबह 10 बजे हम पार्क में मिलते हे?

प्रियांका ने ठीक 10 बजे उस पार्क में पहुंच गया क्यूंकि प्रियांका पेहेले से थोड़ा अंदाज था की आज रनजीत मुझे किउअ कहने बाला हे।

उस दिन प्रियांका बहुत ही खूबसूरत लड़ रहा था रनजीत एक गुलाब लेकर प्रियांका I LOVE YOU कहकर प्रोपोज कर दिया। प्रियांका भी खुसी खुसी कहा I LOVE YOU TO रनजीत का प्रोपोज एक्सेप्ट कर लिया।

उसदिन उन दोनों का सबसे खुसी का दिन था बह दोनों ही बहुत खुश थे। बह दोनों एक दूसरे को गले लगाकर बहुत बाते किया। प्रियांका को आइसक्रीम खाने की बहुत सोख था।

और पार्क की सामने की रास्ते में एक आइसक्रीम बालो को देखा और आइसक्रीम लेने चला गया। आइसक्रीम लेकर आते समय तेजी से एक गाड़ी से टकराकर प्रियांका की एक्ससीडेंट हो गया।

ये देखकर रनजीत की पेरो तले जमीन खिशक गया ऐसा लग रहा था की मानो उसका दिमाग काम करना बंद कर दिया था। प्रियांका खून से लतपत जमीन पर गिरा था।

एक्ससीडेंट के बाद प्रियांका का किया हुआ? किया रनजीत प्रियांका को बचा पायेगा? आगे की कहानी पड़ने केलिए यहाँ क्लिक करे 👉 Sad Love Story in Hindi for Girlfriend | इमोशनल स्टोरी इन हिंदी | बेवफा Part 2

निष्कर्ष

रनजीत और प्रियांका की प्रेम कहानी आपको केसा लग रहा हे? किया होगा प्रियांका का? किया रनजीत का प्यार जित पायेगा? बहुत सारे सबाल हे और इन सारे सबालो का जबाब आपको इस कहानी का दूसरा भाग ‘Love Story in Hindi for Girlfriend‘ में मिलेगा।

इस कहानी का दूसरा भाग पड़ने केलिए कृपा करके ऊपर में दिए गए लिंक पर क्लिक करके जरूर पड़े और कमेंट करके जरूर बताएं ये कहानी आपको कैसे लगा?

Love Story in Hindi for Girlfriend FAQ

Q. प्यार दिबस को इंग्लिश में किया कहते हे?

A. प्यार की दिबस को इंग्लिश में Valentine Day .

Q. प्यार की दिबस कब मनाया जाता हे?

A. प्यार दिबस हार साल की 14 February को मनाया जाता हे।

Q. किया 23 April प्रेम दिबस हे?

A. हाँ 23 April राष्ट्रीय प्रेम दिबस हे। जब की वैलेंटाइन डे और राष्ट्रीय प्रेम दिबस अलग अलग हे। मगर दोनों दिबस का मतलब और दोनों दिबस की परिभाषा प्यार से जुड़ा हे।

Q. Singles Awareness Day कब मनाया जाता हे?

A. हार साल की 15 February को Singles Awareness Day मनाया जाता हे।

Q. Singles Awareness Day का किया मतलब होता हे?

A. Singles Awareness Day का मतलब जिन लोगो का कोई लाइफ पार्टनर नहीं होता। बह लोग अकेला महसूस ना करे इसलिए हार साल की 15 February को Singles Awareness Day मनाता हे। एक तरफ देखा जाये तो उन लोगो केलिए बह दिन ही valentine day हे।

Q. इमोशनल स्टोरी इन हिंदी का किया मतलब होता हे?

A. इमोशनल स्टोरी इन हिंदी का मतलब होता हे भाबनात्मक कहानी हिंदी भाषा में

ये भी पड़े
Rate this post

Leave a Comment